इन भारतीयों को मेरा सलाम


इन भारतीयों को मेरा शत्-शत् प्रणाम | जिन्होंने अपने अकेले दम पर अपने देश को अलग-अलग क्षेत्रों में असीम बुलंदियों पहुँचाया | इन सभी में महासागर जैसे शक्ति और गहराई के साथ-साथ स्वभाव काफी सरल, शांत, विन्म्र है, | इनके एक-एक शब्द Energy से ओत-प्रोत और नई प्रेरणा देनेवाली होती हैं यही इनका एक-एक शब्द मुझे Energy देता रहता है | इन्हीं से हमेशा हमें कुछ नया करने का जूनून, नई सोच, नई-नई बुलंदियों को छूने की प्रेरणा मिलती रहती है |

इन सभी बातोँ को बताने का सिर्फ मेरा मकसद ये है कि आप सभी में भी महासागर जैसा शक्ति, परमाणु बम इतनी Energy आपमें भरा पड़ा है| बस इसे पहचानने तथा सही दिशा देनी की जरूरत है | इसके बाद आपकी जिन्दगी नित नई बुलंदियों को छूता जाएगा |

मेरा एक सपना है Green Revolution की तरह, बिहार में एक Commercial Revolution लाने की ताकि बिहार का एक-एक घर आथिर्क रूप से सम्पन्न बन सके| हमें भी अपने विचारों, Ideas, Concept को अमेरिकियों की तरह Commercial रूप देना होगा तभी हमलोग आथिर्क दृष्टि से सम्पन्न बन सकते हैं| इस Commercial Revolution को लाने के लिए मुझे आप सभी की जरूरत है ताकि मेरा विचार आप जन-जन तक पहुँचा सकें |

उपयुर्क्त भारतीयों के प्रति मेरा सम्मान, मेरा प्यार, मेरी आस्था इसलिए और बढ़ जाती है कि इन्होंने भारतीय मूल्यों को रखते हुए बुलंदियों को छुआ | मैं आप सभी से भी उम्मीद यही करता हूँ कि आप भी किसी न किसी व्यक्ति, माता - पिता से प्रेरणा लेते रहें और आपमें भी Energy की धारा बहता रहे/संचार होता रहे| ताकि आप भी कभी थके नहीं, बैठे नहीं, हारे नहीं, रुके नहीं ..... निरन्तर आप आगे बढ़ते जाएँ, बुलंदियों को छुते जाएँ, यही हमारी सुभकामना है |

-मल्होत्रा सर